Kaise dekhe unakee nazaro mein vo nazare jhukae baithe hai,
paas hai vo mere phir bhee is tarah saramaaye baithe hai!
dastoor e mohabbat bahut ho gaya saramaana,
ek baar nazar utha kar to dekhiye,
ham aapakee mohabbat mein paalak bichhae baithe hai !!

कैसे देखे उनकी नज़रो में वो नज़रे झुकाए बैठे है,
पास है वो मेरे फिर भी इस तरह सरमाये बैठे है!
दस्तूर ए मोहब्बत बहुत हो गया सरमाना,
एक बार नज़र उठा कर तो देखिये,
हम आपकी मोहब्बत में पालक बिछाए बैठे है !!

 

Read More →

Milane kee khavaish to har koee rakhata hai,
par use nibhaana bhee jarooree hai,
door rahakar bhee paas hai vo mere,
ye kahane kee himmat bhee koee koee rakhata hai!

मिलने की खवाइश तो हर कोई रखता है,
पर उसे निभाना भी जरूरी है,
दूर रहकर भी पास है वो मेरे,
ये कहने की हिम्मत भी कोई कोई रखता है!…

Read More →

Ibaadat kee hai usase milane kee
shaayad pooree ho jaaye,
jo tammana hai baraso se dil mein,
usase kahane kee vo bhee pooree ho jaaye !

इबादत की है उससे मिलने की
शायद पूरी हो जाये,
जो तम्मना है बरसो से दिल में,
उससे कहने की वो भी पूरी हो जाये !…

Read More →

Wo Jane Anjane Mai hume kuch aisa kah gaye,
wo hame hum unhe dekhte rah gaye !
bhala ye bhi koi dastoor hai mohabaat ka,
hum sath sath the fir bhi tanhaa rah gaye !!

वो जाने अनजाने में हमे कुछ ऐसा कह गए,
वो हमें हम उन्हें देखते रह गए !
भला ये भी कोई दस्तूर है मोहब्बत का,
हम साथ साथ थे फिर भी तनहा रह गए !!

 

Read More →